Like Us Facebook

22 लाख किसानों के बैंक खातों में खरीफ सीजन 2020–21 की पहली किश्त के रूप में 1500 करोड़ रूपए की कृषि आदान सहायता

किसान न्याय योजना की पहली किश्त

छत्तीसगढ़ सरकार ने राज्य के किसानों को पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पुण्य तिथि पर बड़ी सौगात दी है | पूर्व प्रधानमंत्री के नाम से चलाई जा रही योजना राजीव गाँधी किसान न्याय योजना के तहत राज्य के 22 लाख किसानों के बैंक खातों में खरीफ सीजन 2020–21 की पहली किश्त के रूप में 1500 करोड़ रूपए की कृषि आदान सहायता राशि (इनपुट सब्सिडी) का अंतरण सीधे उनके बैंक खातों में किया गया |


राजीव गाँधी किसान न्याय योजना के तहत राज्य के किसानों को 4 किश्तों में पैसा दिया जाता है | इस वित्त वर्ष की यह पहली किश्त है | इसके बाद किसानों को 3 किश्त और दिया जाना है, इस योजना के तहत दी जाने वाली इनपुट सब्सिडी में 14 फसलों को शामिल किया गया है |

14 फसलों की खेती पर दी जाती है सहायता राशि (Input Subsidy)

राजीव गाँधी किसान न्याय योजना की शुरुआत धान तथा मक्के की फसल से की गई थी | बाद में इसका विस्तार करते हुए राज्य में उत्पादित होने वाली और फसलों को शामिल किया गया है | मौजूदा समय में योजना के अंतर्गत 14 फसलों को शामिल है | राजीव गाँधी किसान न्याय योजना के तहत धान, मक्का, सोयाबीन, मूंगफली, तिल, राम तिल, कुल्थी, कोदो, कुटकी, मूंग, उड़द, अरहर, रागी तथा गन्ना को शामिल किया गया है |

योजना के अंतर्गत कितने किसानों को लाभ मिला है ?

राजीव गाँधी किसान न्याय योजना के तहत राज्य के 18.38 लाख किसानों को योजना का लाभ मिला है | इन किसानों में सीमांत, लघु तथा बड़े किसान शामिल है | योजना के अंतर्गत लाभ प्राप्त करने वाले किसानों की संख्या भूमि के आधार पर इस प्रकार है |

  • सीमांत किसान – 9 लाख 55 हजार 531 किसान
  • लघु किसान – 5 लाख 61 हजार 523 किसान
  • बड़े किसान – 3 लाख 21 हजार 538 किसान.  

अभी तक किसानों को 4 किश्तों में दी गई कुल राशि

राजीव गाँधी किसान न्याय योजना के तहत राज्य सरकार ने राज्य के 19 लाख किसानों को 4 किश्तों में 5628 करोड़ रुपये दिए हैं | यह राशि 4 किश्तों में किसानों के खातों में दी गई है  |

  • पहली किश्त :- पहली किश्त राज्य के 18 लाख 34 हजार 834 किसानों को 21 मई 2020 के दिन 1500 करोड़ रूपये दिये गये |
  • दूसरी किश्त :- दूसरी किश्त राज्य के 19 लाख किसानों के खातों में 20 अगस्त 2020 के दिन 1500 करोड़ रूपये दिये गये |
  • तीसरी किश्त :- तीसरी किश्त राज्य के 18 लाख 38 हजार किसानों के खातों में नवंबर 2020 को 1500 करोड़ रूपये दिये गये |
  • चौथी किश्त :- चौथी किश्त राज्य के 18 लाख 53 हजार किसानों के खातों में 21 मार्च 2021 को 1104.27 करोड़ रूपये दिये गये |

गन्ना किसानों के खातों में भी दिए गए 74.24 करोड़ रूपये

वर्ष 2020 से राजीव गाँधी किसान न्याय योजना के अंतर्गत शामिल किया गया था | इस योजना के तहत राज्य के किसानों से 355 रूपये प्रति क्विंटल की दर पर गन्ना ख़रीदा गया | इसमें गन्ने की मात्रा के आधार पर एफआरपी राशि 261 रूपये प्रति क्विंटल और प्रोत्साहन व सहायता राशि 93.75 रूपये प्रति क्विंटल अर्थात अधिकतम 355 रूपये प्रति क्विंटल की दर से भुगतान किया गया है |  अभी तक राज्य के 34292 किसानों को गन्ना के प्रोत्साहन राशि 74 करोड़ 24 लाख रूपये की भुगतान किया गया है |

बीज उत्पादक किसानों को दिए गए 23.62 करोड़ रूपये

राज्य में बीज को प्रोत्साहन देने तथा बीज के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनने के उद्देश्य से राज्य में बीज उत्पादक किसानों को राजीव गाँधी किसान न्याय योजना से जोड़ा गया है | इस योजना के तहत राज्य के 4,777 किसानों को 23 करोड़ 62 लाख रूपये का भुगतान किया गया है |

Post a Comment

0 Comments