न्यूज़, ब्लॉग , चर्चित व्यक्तिव , पर्यटन और सामाज और धर्म कर्म की खबरे देखो दुनिया लेकिन हमारे भाटापारा के नजरिये से ...........

Hima Das Biography in Hindi | हिमा दास जीवन परिचय

Hima Das Biography in Hindi | हिमा दास जीवन परिचय

जीवन परिचय
वास्तविक नामहिमा दास
उपनामहिमा, मोन जय, गोल्डन गर्ल
व्यवसायएथलीट
प्रसिद्ध हैंविश्व स्तर पर ट्रैक स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीतने के लिए
शारीरिक संरचना
लम्बाई (लगभग)से० मी०- 165 
मी०- 1.65
फीट इन्च- 5' 5”
वजन/भार (लगभग)55 कि० ग्रा०
आँखों का रंगकाला
बालों का रंगभूरा
ट्रैक और फील्ड#colspan#
अंतर्राष्ट्रीय शुरुआतवर्ष 2018 में आईएएएफ विश्व U-20 चैंपियनशिप में
कोच/संरक्षकनिपोन
हिमा दास अपने कोच के साथ
इवेंटSprint
रिकॉर्ड्स (मुख्य)वर्ष 2018 आईएएएफ वर्ल्ड U-20 चैम्पियनशिप में, उन्होंने 400 मीटर की रेस में स्वर्ण पदक जीता और विश्व चैंपियनशिप में खिताब जीतने वाली वह पहली भारतीय ट्रैक एथलीट बनी।
व्यक्तिगत जीवन
जन्मतिथि9 जनवरी 2000
आयु (वर्ष 2018 के अनुसार)18 वर्ष
जन्मस्थानगांव धिंग, जिला नगांव, असम
राशिमकर
राष्ट्रीयताभारतीय
गृहनगरगांव धिंग, जिला नगांव, असम
धर्महिन्दू
शौक/अभिरुचिफुटबॉल खेलना, शूटिंग करना, संगीत सुनना, फिल्में देखना
प्रेम संबन्ध एवं अन्य जानकारियां
वैवाहिक स्थितिअविवाहित
परिवार
पतिकोई नहीं
माता-पितापिता - रोंजित दास (किसान)
माता - जोमाली
हिमा दास अपनी माँ के साथ
भाई-बहन5 (नाम ज्ञात नहीं)
पसंदीदा चीजें
पसंदीदा ट्रैक एथलीटअश्विनी अक्कुनजी
पसंदीदा फुटबॉल खिलाड़ीNicolás Vélez (Argentina)
पसंदीदा संगीतकारजुबिन गर्ग
पसंदीदा फ़िल्मेंमोन जय, मिशन चाइना
धन/संपत्ति संबंधित विवरण
आय (लगभग)ज्ञात नहीं
कुल संपत्ति (लगभग)ज्ञात नहीं


हिमा दास से जुड़ी कुछ रोचक जानकारियाँ

  • ट्रैक स्पर्धा में आने से पहले, हिमा फुटबॉल में रुचि रखती थीं।
  • अपने स्कूल समय में हिमा लड़कों के साथ फुटबॉल खेलती थीं।
  • निपोन (हिमा कोच) ने हिमा को अंतर-जिला प्रतियोगिता के दौरान देखते हुए कहा कि “हिमा ने सबसे सस्ते स्पाइक्स पहन रखे हैं और इसके बावजूद भी वह 100 मीटर और 200 मीटर की दौड़ में स्वर्ण जीत जाती हैं, वह हवा की तरह दौड़ रही थी, अपने संपूर्ण जीवन में मैंने इतनी कम उम्र में ऐसी प्रतिभा नहीं देखी।”
  • निपोन ने हिमा पर गांव से 140 किमी दूर गुवाहाटी में स्थानांतरित होने के लिए दबाव डाला और उसे आश्वस्त किया कि उनके पास एथलेटिक्स में सुनहरा भविष्य है।
  • शुरुआत में उनके माता-पिता गुवाहाटी भेजने के लिए अनिच्छुक थे, लेकिन बाद में वह भी सहमत हो गए।
  • विश्व U-20 चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने के बाद, भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें ट्विटर पर बधाई दी।
  • ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में 2018 राष्ट्रमंडल खेलों में, वह 400 मीटर के फाइनल में छठे स्थान पर रहीं।
  • हिमा ने फिनलैंड के टैम्पेयर शहर में आयोजित IAAF विश्व U-20 एथलेटिक्स चैंपियनशिप (IAAF World U20 Championships) की 400 मीटर दौड़ में स्वर्ण पदक जीता। जिसमें उन्होंने दौड़ को पूरा करने में 51.46 सेकंड का समय लिया।
  • आईएएएफ विश्व U-20 एथलेटिक्स चैंपियनशिप की 400 मीटर दौड़ के सेमीफाइनल में जीत दर्ज करने के बाद एथलेटिक्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (Athletics Federation of India) ने हिमा दास की अंग्रेजी भाषा को लेकर अपमानित करते हुए एक ट्वीट किया :

Share:

0 Comments:

Post a Comment

Followers

Search This Blog

Popular Posts

Blog Archive

Popular Posts