न्यूज़, ब्लॉग , चर्चित व्यक्तिव , पर्यटन और सामाज और धर्म कर्म की खबरे देखो दुनिया लेकिन हमारे भाटापारा के नजरिये से ...........

विश्व चैंपियन-15 दिनों में 5 Gold लेकिन देश को सबसे पहले जानना है जाति -भारत की 'उड़न परी' हिमा दास.


धा
न के खेतों से चलकर अंतरराष्ट्रीय मैदान पर फ़र्राटे सी दौड़ने वाली एथलीट हिमा दास का नाम आज ज़्यादातर लोग जानते हैं.


51.46 सेकेंड में आईएएएफ़ विश्व अंडर-20 एथलेटिक्स चैंपियनशिप की 400 मीटर दौड़ पूरी कर गोल्ड मेडल जीतना. ये वो कारनामा था, जिसके बाद पूरी दुनिया ने भारत की 'उड़न परी' हिमा दास के बारे में जाना. लेकिन कुछ लोगों के मन में एक सवाल रह गया. सवाल कि हिमा दास की जाति क्या है?


हिमा के जीतने के बाद से गूगल पर ऐसे लोगों की तादाद में इजाफ़ा हुआ, जो हिमा दास की जाति जानना चाहते हैं. ऐसा 2016 ओलंपिक्स के दौरान भी हुआ था, जब पीवी सिंधु मैदान पर बैडमिंटन खेल रही थीं, तब लोग सिंधु की जाति जानना चाह रहे थे.

गूगल पर 12 जुलाई के बाद से अगर गूगल ट्रेंड्स पर नज़र दौड़ाएं तो भारत में लोग हिमा दास की जाति जानना चाह रहे हैं. अगर आप गूगल पर हिमा लिखते हैं तो पहला सुझाव 'जाति' मिलता है.




काश यह लड़की  प्रियंका चोपडा या कैटरीना कैफ होती जो सोशल मीडिया पर छा जाती लेकिन जनाब यह तो किसान की बेटी है जिसने भारत का नाम रोशन किया है हैरानी की बात है अधिकतर लोगो को इसकी जानकारी तक नहीं है धन्य है वह असम का गरीब धान उगाने वाला किसान परिवार जिसने एक दृढ़ संकल्पी खिलाड़ी भारत मां को दिया है ।

जिसके पास सप्लीमेंट और प्रोटीन कभी नहीं थे जो सिर्फ दाल और चावल खाकर उस मुकाम पर पहुंची है 

वह कभी स्टेडियम के पक्के ट्रैक पर नहीं दौड़ पाई क्योंकि उसके लिए तो खेतों के कच्चे रास्ते ही उसके सपने और देश के सपने पूरे करने वाले थे।

जिसने जब देश के लिए विश्व चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीता उसकी आंखें आंसुओं से भरी हुई थी जब राष्ट्रीय गान चल रहा था । यह आंसू गोल्ड मेडल के नही थे यह आंसू थे भारत का नाम रोशन करने के लिए भारत के राष्ट्रगान के सम्मान मे ओर अब लगातार भारत का नाम रोशन करती जा रही है सभी तरह की प्रतियोगिता मे भारत को पदक अवश्य दिलाती है अभी हाल ही मे असम बाढ पीड़ितों के लिए अपने पदक की राशी दान कर दी इसे कहते है अपने देश अपने राज्य के प्रति वफादारी






























15 दिनों में हिमा दास ने जीता 5 गोल्ड मेडल, पूरे देश ने ऐसे किया सलाम

भारत की स्टार एथलीट हिमा दास की शानदार फॉर्म जारी है। उन्होंने पिछले 15 दिनों में अपना 5 वा गोल्ड मेडल जीता है। 

हिमा ने इससे पहले कुछ इस तरह जीते  गोल्डः


  • पहला गोल्ड: 2 जुलाई को हिमाहिमा दास ने पोजनान एथलेटिक्स ग्रांड प्रिक्स में 200 मीटर रेस में हिस्सा लिया था। उन्होंने 23.65 सेकंड में उस रेस पूरा कर गोल्ड जीता था।

  • दूसरा गोल्ड: हिमा दास ने 7 जुलाई को पोलैंड में कुटनो एथलेटिक्स मीट में 200 मीटर रेस को 23.97 सेकंड में पूरा कर गोल्ड मेडल जीता था

  • तीसरा गोल्ड: हिमा दास ने 13 जुलाई को चेक रिपब्लिक में हुई क्लांदो मेमोरियल एथलेटिक्स में महिलाओं की 200 मीटर रेस को 23.43 सेकेंड में पूरा किया।

  • चौथा गोल्ड:महिलाओं की 200 मीटर रेस में हिमा दास ने चेक रिपब्लिक में चल रहे टबोर एथलेटिक्स मीट में बुधवार (17 जुलाई) को एक और गोल्ड मेडल अपने नाम कर लिया। हिमा ने महज 23.25 सेकेंड में दौड़ पूरी कर ली।
  • 5वा गोल्ड: हिमा ने नोवे मेस्टो नाड मेटुजी ग्रां प्री में महिलाओं की 400 मीटर स्पर्धा में पहला स्थान हासिल किया।यह उनका महीनेभर में 5वां गोल्ड मेडल रहा इस दौड़ को जीतने के लिए उन्होंने 52.09 सेकंड का समय लिया

Share:

0 Comments:

Post a Comment

Followers

Search This Blog

Popular Posts

Blog Archive

Popular Posts